मोदी सरकार निजीकरण कर देश चला रही सरकार - अमन दुबे

मोदी सरकार निजीकरण कर देश चला रही सरकार - अमन दुबे


केंद्र सरकार का आम बजट इस बार खोदा पहाड़ निकली चुहिया साबित हुआ। युवा कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता प्रवक्ता दुबे ने कहा कि संसद में पेश हुए बजट को देश के लिए अभी तक का सबसे निराशाजनक बताया है। इस बजट में देश की अहम कम्पनियों को बेचने पर ज़ोर दिया गया।

अमन दुबे ने कहा कि देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने तत्कालीन कांग्रेस सरकार में जो शासकीय सम्पत्तियों, कम्पनियों का निर्माण किया था, जो देश का अभिमान और स्वाभिमान को दर्शाती थी उसे बेचने का काम किया है।

इस आम बजट पर प्रवक्ता अमन दुबे ने कहा कि यह बजट अब तक का सबसे निराशाजनक बजट है। इस बजट में ना तो महंगाई कम करने पर ज़ोर दिया और ना ही देश की आर्थिक स्तिथि कैसे ठीक होगी।

अमन दुबे ने कहा कि रेल, बिजली, सड़क, ऐयरपोर्ट, स्टेडीयम, इंडियन ऑयल कारपोरेशन, गेल, आईओसी, HPCL जैसी बड़ी संस्थानों को बेचने/निजी हाथों में सौंपकर अम्बानी और अड़ानी जैसे बड़े उद्योगपतियों को पूरा देश दे दिया है।

युवा कांग्रेस के प्रवक्ता अमन दुबे ने कहा कि इस आम बजट में युवाओं के लिए भी किसी प्रकार प्रावधान नहीं किया है। युवाओं को रोज़गार मिलना इस सरकार में अब सिर्फ़ सपना देखना सा हो गया है।

देश में महंगाई चरम सीमा पर है। इस बजट में इलेक्ट्रॉनिक सामान जैसे टीवी, फ़्रिज, कूलर, एसी, चार्जर जैसी आम चीजों को महंगा किया गया है। गैस सिलेंडर की सब्सिडी पूरी तरह से बंद कर दी गयी। पेट्रोल के दाम सेंचुरी लगा चुके। मध्यप्रदेश के अनूपपुर में पेट्रोल 100₹ पार कर चुका है। आम जनता की कमर पहले से ही टूट चुकी है और अब ऐसे में इस बजट ने जनता का सब कुछ छीन लिया है।