सरपंच भागचन्द चोटिया हत्याकांड पर बेनीवाल का बड़ा बयान

किशनगढ़ में खूनी खेल, सिनोदिया हत्याकांड के गवाह का दिनदहाड़े मर्डर



किशनगढ़ के पूर्व विधायक नाथूराम सिनोदिया के पुत्र भंवर सिनोदिया की हत्या के मामले में चश्मदीद गवाह रहे हरमाड़ा सरपंच भागचन्द चोटिया की रविवार को दिनदहाड़े किशनगढ़ में गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या की वारदात के तार सिनोदिया हत्याकांड से ही जुड़े हैं। मोटर साइकिल पर आए तीन हत्यारे वारदात अंजाम देकर फरार हो गए।

पुलिस के अनुसार भागचन्द चोटिया रविवार शाम 4 बजे किशनगढ़ में बालाजी मंदिर के पास अपने परिचित से मिलकर लौट रहा था। कार में बैठने के दौरान दो बाइक पर आए तीन बदमाशों ने चोटिया पर ताबड़तोड़ फायर किए। गोली लगने के बाद भी चोटिया ने कार में बैठने का प्रयास किया लेकिन एक बदमाश ने पास आकर गोली मार दी। इससे चोटिया ढेर हो गया।

हत्यारे गोली दागने के बाद सांवत्सर रोड की तरफ फरार हो गए। जख्मी चोटिया को चाचा करतार जाट व परिचितों ने राजकीय यज्ञनारायण अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उसको मृत घोषित कर दिया। वारदात के बाद एसपी कुंवर राष्ट्रदीप, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण किशनसिंह भाटी, सीओ किशनगढ़ शहर पार्थ शर्मा मौके पर पहुंचे।
  मृतक फ़ोटो 


बोले बेनीवाल...हत्यारों व साजिशकर्ता की जल्द हो गिरफ्तारी

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने रविवार को अजमेर जिले के किशनगढ़ में हरमाड़ा सरपंच पुत्र भागचंद चोटिया की गोलियां मारकर हत्या कर देने के प्रकरण की निंदा की। उन्होंने कहा पूर्ववती गहलोत सरकार ने किशनगढ़ से विधायक रहे नाथूराम सिनोदिया के पुत्र की हत्या का मुख्य गवाह भागचंद चोटिया की हत्या के मामले में बड़ी साजिश का अंदेशा नजर आ रहा है।

ऐसे में हमलावरों के साथ घटना के साजिशकर्ताओं का पता लगाकर उनके खिलाफ कार्यवाही की जरूरत है,सांसद ने वर्तमान सरकार पर आरोप लगाते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर सीएम अशोक गहलोत की ट्वीट भी किया वही देर रात तक बेनीवाल ने किशनगढ़ जाने का भी आह्वान किया ।

भंवर सिनोदिया हत्याकांड के चश्मदीद गवाह की गोली मारकर हत्या

किशनगढ़ के पूर्व विधायक नाथूराम सिनोदिया के पुत्र भंवर सिनोदिया की हत्या के मामले में चश्मदीद गवाह रहे हरमाड़ा सरपंच भागचन्द चोटिया की रविवार को दिनदहाड़े किशनगढ़ में गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या की वारदात के तार सिनोदिया हत्याकांड से ही जुड़े हैं। मोटर साइकिल पर आए तीन हत्यारे वारदात अंजाम देकर फरार हो गए। पुलिस नाकाबंदी कर हत्यारों की तलाश में जुटी है। मदनगंज थाना पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवाया है।

पुलिस के अनुसार हरमाड़ा सरपंच भागचन्द चोटिया रविवार शाम 4 बजे किशनगढ़ में बालाजी मंदिर के पास अपने परिचित से मिलकर लौट रहा था। कार में बैठने के दौरान दो बाइक पर आए तीन बदमाशों ने चोटिया पर ताबड़तोड़ फायर किए। गोली लगने के बाद भी चोटिया ने कार में बैठने का प्रयास किया लेकिन एक बदमाश ने पास आकर गोली मार दी। इससे चोटिया ढेर हो गये।